वरिष्ठ पत्रकार और एडवोकेट योगेंद्र अग्निहोत्री के चुनाव मैदान में आने से सभी पार्टियों में मची खलबली

वरिष्ठ पत्रकार और एडवोकेट योगेंद्र अग्निहोत्री के चुनाव मैदान में आने से सभी पार्टियों में मची खलबली


कानपुर। गोविंद नगर उपचुनाव 2019 में एडवोकेट योगेंद्र अग्निहोत्री के मैदान में आ जाने के बाद सभी पार्टी के प्रत्याशियों में खलबली मच गई है। नामांकन के पहले से ही एडवोकेट योगेंद्र अग्निहोत्री अपने क्षेत्र में सक्रिय हो गए थे और अब नामांकन के बाद उनके मैदान में आ जाने से सभी बड़ी पार्टीयों में खलबली मच गई है। जिसका सबसे बड़ा कारण यह है की योगेंद्र वकील होने के साथ-साथ एक वरिष्ठ पत्रकार भी हैं और उनके मोर्चा संभालते ही देश के सबसे बड़े पत्रकार संगठन आईरा एसोसिएशन ने उनके पक्ष में पूरी ताकत से झोंक दी है। आईरा एसोसिएशन के आ जाने से एडवोकेट और वरिष्ठ पत्रकार योगेंद्र अग्निहोत्री का चुनाव दिलचस्प होता जा रहा है ।


एक तरफ तो चुनाव मैदान में जनता का खून चूसने वाले , झूठे वादे करने और क्षेत्र में किसी भी तरह का विकास न कराने वाले नेता है तो दूसरी तरफ समाज सेवा में सक्रिय रहने वाले योगेंद्र अग्निहोत्री ।
और उनके साथ है आईरा एसोसिएशन की शक्तिशाली टीम।


और यही वजह है सभी दलों के प्रत्याशियों में कहीं ना कहीं एडवोकेट योगेंद्र अग्निहोत्री के चुनाव मैदान में आ जाने के वजह से उनमें खलबली मची हुई है ।



आज गांधी जी और लाल बहादुर शास्त्री के जन्मदिवस के अवसर पर मालवीय विहार स्तिथ कार्यालय में आईरा के राष्ट्रीय मुख्य महासचिव श्री पुनीत निगम की अध्यक्षता में एक बैठक हुई जिसमें योगेंद्र अग्निहोत्री के चुनाव को लेकर चर्चा की गई। जिसमें श्री पुनीत निगम ने कहा आज पत्रकारों पर हमलें हो रहे है। वकीलों की हत्या हो रही है। पत्रकारों की आवाज़ दबाई जा रही है। ऐसे में लोकतंत्र की रक्षा के लिए यह बहुत ही जरूरी हो गया है कि अब पत्रकारों को भी राजनीति में आना चाहिये । जिससे हमारी कलमें भी सुरक्षित रहेगी और आम लोगो का भला होगा और जनता का खून चूसने वाले नेताओं से समाज को मुक्ति मिलेगी।



इस कार्यक्रम में श्री पुनीत निगम , योगेंद्र अग्निहोत्री, सभी जन पार्टी के अशोक पासवान, आलोक कुमार के अलावा आईरा के वरिष्ठ पदाधिकारी अविनाश श्रीवास्तव, उमेश शर्मा, संजय शर्मा, अजय कुमार श्रीवास्तव, जिलाध्यक्ष आशीष त्रिपाठी, अनुज तिवारी , पीयूष तिवारी, अमित कश्यप, सूरज कश्यप , वीरेंद्र शर्मा,  प्रशांत , अंबुज उपाध्याय, अमित, सागर, अंजली, मोहित पांडे, सरस् यादव, दिलशाद अहमद, राजू तिवारी, उमर हशन, हिमांशु गुप्ता, अश्वनी कुमार, मोहम्मद शाहनवाज, गौरव प्रजापति, विजय कुशवाहा, अभिषेक चौधरी, नरेन्द्र सविता , वत्सल वर्मा, वीरेन्द्र त्रिपाठी, विशाल गुप्ता,  सर्वेश पाठक, शकील अहमद, आदि लोग उपस्थित रहे।


Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...