अपराधी विकास दुबे ने कहा, शवों को जलाकर सबूत मिटाने की थी योजना


विकास दुबे ने कहा, मैंने सभी साथियों को अलग अलग भागने को कहा था। आगे उसने कहा कि एनकाउंटर के डर से फायरिंग की। इसके अलावा उसने कहा कि चौबेपुर के अलावा कई थानों में मेरे मददगार थे। 


कानपुर गोलीकांड के आरोपी कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया है। उससे अज्ञात स्थान पर मध्यप्रदेश पुलिस पूछताछ कर रही है। उसे यूपी लाने के लिए एक यूपी पुलिस की एक टीम जल्द ही मध्यप्रदेश पहुंचेगी। वहीं विकास दुबे उत्तर प्रदेश के नंबर प्लेट वाली एक गाड़ी से मध्यप्रदेश पहुंचा था। गाड़ी पर हाईकोर्ट लिखा हुआ है। इसी कारण वह आसानी से सीमा पार कर पाया। गाड़ी किसी मनोज यादव के नाम पर पंजीकृट बताई जा रही है।


Popular posts from this blog

घायलों की मदद करने वाले समाजसेवियों को किया गया सम्मानित

पूनम्स पब्लिक स्कूल में हुआ विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

नेशनल मीडिया प्रेस क्लब हर सदस्य को उपलब्ध कराएगा स्वरोजगार का अवसर