डॉ जवाहरलाल रोहतगी के सहयोग से गांव और शहरी क्षेत्रों में चलाया जा रहा है कोरोना जागरूकता अभियान

 

CII फाउंडेशन और CLP इंडिया द्वारा कानपुर, उन्नाव और फतेहपुर के विभिन्न गांवों और शहरी क्षेत्रों में कोरोना वायरस संबंधित जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। 

कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए शारीरिक दूरी के पालन के साथ स्क्रीनिंग के लिए दुनिया भर में नए नए प्रयोग किए जा रहे हैं । जिसके लक्षणों के आधार पर संक्रमित व्यक्तियों की पहचान हो सके और उनको समय से इलाज मिल सके। 

इस को ध्यान में रखते हुए CII फाउंडेशन और सीएलपी इंडिया द्वारा कोरोना वायरस की स्क्रीनिंग और जागरूकता हेतु कानपुर उन्नाव फतेहपुर के गांव में एक पायलट प्रोजेक्ट चलाया जा रहा है। 

यह प्रोजेक्ट कानपुर जिले के बिल्लौर ब्लॉक के बिरहाना और कुदौरा गांव , गोविंद नगर के जागेश्वर वार्ड, उन्नाव जिले के गंगागंज ब्लाक के चंपापुरवा वार्ड नंबर 9, वार्ड नंबर 19, फतेहपुर जिले के देवमई ब्लॉक के देलेमऊ और कुचवारा गांव में चल रहा है यह प्रोजेक्ट डॉ. जवाहरलाल रोहतगी हॉस्पिटल कानपुर, आईटीआई इंटरनेशनल इंडिया और दिमागी के संयुक्त तत्वाधान में चलाया जा रहा है। इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत डॉ जवाहरलाल रोहतगी हॉस्पिटल में लिंक वर्कर गांव के सभी सदस्यों की मोबाइल एप के द्वारा स्क्रीनिंग कर रहे हैं और कोरोना संबंधी लक्षण होने पर जिला अस्पताल में जांच करवाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। लिंक वर्कर संभावित करोना संक्रमित व्यक्तियों की सूचना जिले के स्वास्थ्य अधिकारी और सर्विलेंस टीम को भी दे रहे हैं।  इस प्रोजेक्ट का उद्देश समुदाय में कोरोना संबंधी जागरूकता को बढ़ाना है जिससे सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों को बल मिलेगा। यह प्रोजेक्ट ग्राम प्रधानों और आशा को उनके कोरोना संबंधी कार्यों में मदद कर रहा है। ब्लॉक और जिले के स्वास्थ्य अधिकारियों को संभावित कोरोना व्यक्तियों की सूचना दे रहा। और गांव में बाहर से आए व्यक्ति को ट्रैक कर रहा है। यह जानकारी डॉ जवाहरलाल रोहतगी हॉस्पिटल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए दी गई। जिसमे आशुतोष मिश्रा , अनिमेष राय, प्रतीक तिवारी, अर्पिता, सुमईया डॉ सुषमा कपूर, समरेश राय और सुरेंद्र राजपूत उपस्थित रहे।