73 वर्ष का हुआ आजाद भारत


15 अगस्त 2020 अर्थात *स्वतंत्रता दिवस* हमारे देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण  है,किंतु कोरोना वैश्विक महामारी एवं लॉक डाउन के चलते,राष्ट्रीय त्योहार में उल्ल्हास एवं उत्साह कुछ फीका ही रहेगा। कोविड 19 से उपजे हालात एवं पड़ोसी देशों के साथ उत्पन्न हुये तनावपूर्ण संबंधों के कारण स्थितियां इतनी सहज नही है।खेर यह जीवन है, यहाँ अच्छा बुरा होना स्वाभाविक भी है । गौरतलब है कि आगामी स्वतंत्रता दिवस के सुअवसर पर *प्रधानमंत्री मोदी* ( *वन नेशन वन हेल्थ कार्ड* )की घोषणा कर सकते है यदि ऐसा होता है  तो यह कदम स्वास्थ सेवाओ के लिहाज से एक बड़ा फैसला होगा ।इस कार्ड के माध्यम से नागरिक ,देश के किसी भी हिस्से  में चिकित्सा सुविधा ले सकेंगे।एक तरह से *one Nation one helth card* के माध्यम से देश की स्वास्थ्य सेवाओं को डिजिटल प्लेटफार्म पर लाने की कवायद है ।इस योजना को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा ।वर्तमान सरकार द्वारा बड़े मुद्दों के तहत धारा 370 की समाप्ति एवं रामजन्मभूमि के निर्माण का कार्य किया जा रहा है ,अब तीसरे बड़े मुद्दे समान नागरिक संहिता की बारी है। भले ही प्रधानमंत्री जी के भाषण में इसका जिक्र न हो ,किंतु कहना गलत न होगा की इस तरह के संकेत अवश्य हो सकते है हो। चीन के साथ सीमा विवाद  एवं कोरोना संकट में आत्मनिर्भर भारत भावी कार्य योजना के साथकुछ नए मिशन सामने आ सकते है।


Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...