लॉयर्स कालोनी में हिंदुस्तान लीवर के गोदाम में 12 लाख की लूट

 


शहर की पॉश कालोनी में से एक लॉयर्स कालोनी में शनिवार रात को दो बदमाशों ने हिंदुस्तान लीवर कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर के गोदाम में 12 लाख रुपये की लूट की। बदमाशों ने पहले हथियार तानकर गोदाम मालिक प्रवीन बंसल की पत्नी शालिनी, एक कर्मचारी और गार्ड को बंधक बनाया। तीनों को कमरे में बंद करके ताला लगा दिया। इसके बाद कैश लूटकर कर्मचारी की बाइक से ही फरार हो गए। मालिक प्रवीन बंसल के आने पर घटना की जानकारी हो सकी। सूचना पर पुलिस अधिकारी पहुंच गए। बदमाशों ने खुद को परिचित बताया था।     

घटना रात तकरीबन साढ़े आठ बजे की है। सूर्य अपार्टमेंट निवासी प्रवीन बंसल का लायर्स कालोनी स्थित कोठी नंबर ओ-13 में भूतल पर मदन गोपाल जगन्नाथ प्रसाद के नाम से फर्म है। वह हिन्दुस्तान लीवर लिमिटेड के डिस्टीब्यूटर  हैं। उनका गोदाम और आफिस यही बना है।  प्रवीन की पत्नी शालिनी बंसल भी आफिस में काम संभालती हैं। 

रात को ऑफिस में शालिनी बंसल और कर्मचारी ललित रावत बैठे हुए थे। गेट पर गार्ड करन सिंह ड्यूटी दे रहा था। तभी दो युवक पैदल आए। गोदाम में बने आफिस में पहुंच गए। एक ने शालिनी बंसल को अपना नाम रोहित गर्ग बताया। कहा कि वह लखनऊ से आया है। प्रवीन बंसल से मिलना है। इस पर शालिनी ने पति को फोन कर दिय। दोनों से बाहर ही बैठने के लिए बोल दिया। इस पर वो बाहर की तरफ चले गए। कोठी के सामने आकर परचून की दुकान से सिगरेट खरीदकर वापस आ गए। 

गोदाम के अंदर पहुंचने पर एक बदमाश ने शालिनी और ललित पर हथियार तान दिए। उन्हेें एक तरफ खड़ा कर दिया। बाद में दूसरे बदमाश ने गार्ड को अंदर बुला लिया। कहा कि बुला रहे हैं। उसे भी बंधक बना लिया। बदमाशों ने तीनों को एक कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद एक बॉक्स में रखे दिनभर के कलेक्शन के 12 लाख रुपये लूट लिए। गोदाम के बाहर खड़ी कर्मचारी की बाइक ही लेकर भाग गए। कुछ ही देर बाद प्रवीन बंसल गोदाम में पहुंचे। तब घटना की जानकारी हुई। उन्होंने पुलिस को सूचना दी। कर्मचारी की बाइक पुलिस को पटपरी के पास खड़ी मिल गई। बदमाश परचून की दुकान में सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गए हैं।



Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...