इंडियन ओवरसीज बैंक से 56 लाख रुपए की लूट

 


सदर थाना क्षेत्र के रोहता इलाके का मामला, अधिकारियों व कर्मियों को बंधक बनाकर वारदात को दिया अंजाम चाकू और तमंचे लेकर आए थे बदमाश, जाते समय यही बोलकर गए कि किसी को बताया तो जान से मार देंगे

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में मंगलवार को असलहों से लैस चार बदमाशों ने इंडियन ओवरसीज बैंक की रोहता ब्रांच से 56 लाख रुपए की लूट की वारदात को अंजाम दिया। बदमाशों ने अधिकारियों और कर्मचारियों को बंधक बना लिया था। लूट की यह वारदात शाम 4:50 से 5:05 बजे के बीच की है। करीब 15 मिनट में पूरी घटना को अंजाम देकर बदमाश फरार हो गए। सूचना पाकर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और पड़ताल की है। सिटी रोहन पी बोत्रे ने बताया कि बदमाशों को पकड़ने के लिए 10 टीमों का गठन किया गया है। जल्द ही लुटेरे पकड़े जाएंगे।

थाना सदर क्षेत्र ग्वालियर हाइवे पर रोहता में इंडियन ओवरसीज बैंक की ब्रांच है। यहां शाम चार बजे ग्राहकों का प्रवेश बंद कर दिया गया था। बैंक में कलेक्शन का काम चल रहा था। जानकारी के अनुसार साढ़े चार बजे के करीब बैंक में कोई सुरक्षाकर्मी नहीं था। 4:50 बजे डिप्टी मैनेजर विवेक यादव में जाने जाने के लिए उन्होंने बैंक का शटर खोला। तभी गेट के पास दो लोग खड़े हुए थे। उनमें से एक ने पेट पर चाकू लगा दिया। इसके बाद दोनों विवेक को खींचकर बैंक के भीतर ले गए। पीछे से आए दो बदमाशों ने लूटपाट शुरू कर दी। सभी ने मास्क, मंकी कैप, हेलमेट और ग्लब्स के साथ जैकेट पहन रखी थी।



बैंक मैनेजर अनीता मीना ने बताया कि बदमाशों ने चाकू और तमंचे तान रखे थे। बैंक में पैनिक बटन है, लेकिन बदमाश तमंचा ताने खड़ा था। करीब 15 मिनट में पूरी वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश जानमाल की धमकी देते हुए फरार हो गए।

 सिटी रोहन पी बोत्रे ने बताया कि फील्ड यूनिट और पुलिस को बुलाकर जांच कराई गई है। बदमाशों को पकड़ने के लिए आगरा की नाकेबंदी की गई। साथ ही 10 टीमों का गठन किया गया है। जल्द ही इस लूटकांड का अनावरण किया जाएगा।




Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...