अनवरगंज-मंधना ट्रैक हटाने की मुहिम

कानपुर। अनवरगंज-मंधना रेलवे ट्रैक हटाने के लिए चलाई जा रही मुहिम को और तेज करने के लिए 51 सदस्यीय कानपुर विकास संकल्प समिति का गठन किया गया। शहर को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए रेलवे ट्रैक को हटाने की मुहिम में लोगों को भी जोड़ने की कवायद शुरू हुई है।

कानपुर विकास संकल्प समिति गुरुद्वारा कमेटियों, स्कूल, कॉलेज से समर्थन के लिए पत्र भरवाएगी। क्रॉसिंग पर बैनर लगाकर हस्ताक्षर चलाया जाएगा। इसके साथ ही रेल मंत्री को 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने का भी अभियान चलाया जाएगा। कानपुर विकास संकल्प समिति के संरक्षक मर्चेंट चेंबर के अध्यक्ष मुकुल टंडन, पूर्व अध्यक्ष डॉ. इंद्रमोहन रोहतगी, आइआइए के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील वैश्य होंगे।

समिति के संयोजक अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश महामंत्री ज्ञानेश मिश्रा व सचिव गुमटी नंबर पांच व्यापार मंडल के अध्यक्ष राजे गुप्ता होंगे। कोषाध्यक्ष 80 फीट रोड के अध्यक्ष आलोक श्रीवास्तव, सह संयोजक जरीब चौकी व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय मिश्रा, अभा उद्योग व्यापार मंडल के युवा अध्यक्ष गुरजिंदर सिंह व आइआइए के अध्यक्ष जय हेमरजानी होंगे।

शहर के बीचो बीच से अनवरगंज-कांसगंज रेल रूट गुजरा है, शहर के अंदर दस से ज्यादा क्रासिंग पड़ती हैं। दिन में कई ट्रेनों का आवागमन रहता है, जिससे क्रासिंग बंद होने पर जीटी रोड पर जाम की समस्या हो जाती है। पिछले काफी समय रेलवे ट्रैक हटाने की मांग चल रही है।

अब मेट्रो लाइन बन जाने से रेलवे ओवर ब्रिज की भी संभावना समाप्त हो गई है। शहर को जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए जनप्रतिनिधि भी कानपुर से मंधना तक रेलवे ट्रैक हटाकर पनकी की ओर मोड़कर दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक से जोड़ने की मांग कर चुके हैं।