कैंप लगाकर दर्ज करेंगे वरासत लेखपाल

 


पुखरायां (कानपुर देहात)। शुक्रवार को नगर पंचायत अमरौधा में जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चंद्र ने चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं सुनी। इस दौरान शासन की योजनाओं की जानकारी देकर ग्रामीणों से उनका लाभ उठाने की अपील की। कहा कि वरासत के लिए प्रत्येक गांव में कैंप लगाए जा रहे हैं। जिसको पढ़कर लेखपाल सुनाएंगे। जो भी खामियां हो उनका दुरुस्ती करण कराएं। दर्ज वरासत की खतौनी निशुल्क दी जाएगी।

अमरौधा नगरपंचायत में शुक्रवार को जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चंद्र ने पहुंचकर चौपाल में ग्रामीणों से समस्याएं पूछी। लिखित शिकायतें मिलने पर संबंधित अधिकारियों से निस्तारण कराने का निर्देश दिया। बताया कि जिसकी वरासत दर्ज होनी है वह संबंधित लेखपाल से मिलकर दर्ज कराएं। उन्होंने नगरपंचायत में दर्ज 10 वरासतों के नाम पढ़कर सुनाए और निशुल्क खतौनी दी।

बताया कि मृतक के यदि अविवाहित पुत्री है तो उसका भी नाम वरासत में दर्ज होगा। विवाह के बाद खतौनी से नाम हटाया जाएगा। अभियान तहत प्रत्येक गांव में लेखपाल पहुंच कर कैंप कर रहे हैं, जो कि खतौनी के नाम पढ़कर सुनाएंगे। खतौनी निशुल्क दी जाएगी। उन्होंने आयुष्मान योजना, राशन कार्ड, पेंशन, सामूहिक विवाह, शौचालय, पीएम आवास सहित योजनाओं का लाभ पात्र लोगों को लेने के लिए कहा। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का पात्र गरीब लोगों को लाभ दिलाएं। किसी प्रकार की लापरवाही न की जाए।

अपर जिलाधिकारी प्रशासन पंकज वर्मा ने किसान सम्मान निधि के संबंध में बताया कि जिस किसान का पैसा नहीं आया है तो उसकी सूची लेखपाल के पास है। यदि नाम नहीं है तो उसमें जुड़वा लें। एसडीएम दीपाली भार्गव, तहसीलदार रामशंकर वर्मा, नगर पंचायत ईओ पंकज सिंह सहित अधिकारी मौजूद रहे।



Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...