सौंपेंगी भाजपा पार्षद मेयर को इस्तीफा क्या है वजह


 कानपुर, बिधनू पहाड़पुर से पार्षद मेनका सेंगर ने कहा है कि शहर में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। अब वह मेयर को इस्तीफा सौंपकर अपना विरोध दर्ज कराएंगी। बीती रात झगड़े के बाद पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने पर वह क्षुब्ध हैं और कहा कि पुलिस जब पार्षद की नहीं सुन रही है तो दूसरी महिलाओं का क्या हाल हो रहा होगा। प्रदेश की भाजपा सरकार में महिलाएं बिल्कुल सुरक्षित नहीं है।

पार्षद मेनिका सेंगर ने बताया कि वह देर शाम गोदभराई कार्यक्रम से लौटकर नौबस्ता की ओर जा रही थीं। इसी दौरान दबंगों ने उनकी कार के आगे गाड़ी खड़ी कर दी। इस बीच उनका समर्थक ने कार से उतरकर रास्ते से गाड़ी हटाने को कहा। इसपर दबंगों ने गाली गलौज शुरू कर दी। विरोध किया तो दबंगों ने उनके साथ मारपीट कर दी। किसी तरह जान बचाकर वह पहाड़पुर चौकी पहुँची।

मेनिका ने बताया कि चौकी पहुंचने के कुछ देर बाद कुछ लोग आए पुलिस के सामने ही उनसे अभद्रता करने लगे। प्रभारी के सामने दी जा रही धमकी पर भी वह शांत रहें। इसपर वह नौबस्ता थाने पहुंची लेकिन वहां पर भी सुनवाई नहीं हुई। पार्षद का आरोप है कि पुलिस की साठगांठ से दबंग बिधनू में खनन करते हैं, इस वजह से उनपर कार्रवाई नहीं जा रही है। पार्षद ने कहा कि पुलिस की मानमानी के खिलाफ क्षेत्रीय लोगों के साथ डीआइजी दफ्तर पर धरना देंगी। वहीं दूसरी ओर मौरंग कारोबारी ने बिधनू थाने में पार्षद व उनके बेटे समेत तीन लूट और मारपीट की तहरीर दी है।