सीएम अरविंद केजरीवाल का भूख हड़ताल किसानों के उपवास का समर्थन



नई दिल्ली,

कृषि कानून के खिलाफ किसानों के उपवास के समर्थन में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का भूख हड़ताल। केजरी ने पंजाब के सीएम अमरिंदर पर साधा निशाना। बता दें कि किसान कृषि कानून को वापस लेने के लिए केंद्र सरकार से मांग कर रहे हैं।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह के बीच वार-पलटवार जारी है। दरअसल, सिंह ने किसानों के पक्ष में केजरीवाल के अनशन को नाटक बताया था। इसी पर दिल्ली सीएम ने पंजाब सीएम पर निशाना साधते हुए सवाल पूछा कि आपने किसानों का आंदोलन क्यों बेच दिया है
केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, 'कैप्टन जी, मैं शुरू से किसानों के साथ खड़ा हूँ। दिल्ली के स्टेडीयम जेल नहीं बनने दी, केंद्र से लड़ा। मैं किसानों का सेवादार बनके उनकी सेवा कर रहा हूं। आपने तो अपने बेटे के ED केस माफ करवाने के लिए केंद्र से सेटिंग कर ली, किसानों का आंदोलन बेच दिया? क्यों?'
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केजरीवाल के अनशन को नाटक बताते हुए कहा था कि केजरी सरकार ने 23 नवंबर को कृषि कानूनों में से एक को बेशर्मी से अधिसूचित कर किसानों की पीठ में छुरा भोंका है और अब वे सोमवार को किसानों की भूख हड़ताल के समर्थन में उपवास पर बैठने की घोषणा कर नाटक कर रहे हैं।'


दिल्‍ली में किसान आंदोलन का हाल, आज उपवास पर अधिकतर बुजुर्ग लेकिन चल रहा लंगर
बता दें की सीएम अरविंद केजरीवाल समेत आप के कई बड़े नेता कृषि कानून के खिलाफ किसानों के एक दिन के भूख हड़ताल के समर्थन में उपवास कर रहे हैं।

 


Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...