पांच वर्षीय इकलौते पुत्र को पीट-पीटकर दी दर्दनाक मौत

 


कानपुर के घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र में मूसानगर रोड स्थित एक ईंट भट्ठे में रहने वाले पिता ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। बिस्तर पर पेशाब करने से नाराज पिता ने पत्नी व बेटियों के सामने पांच वर्षीय इकलौते पुत्र की पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस ने मां की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पिता को गिरफ्तार कर लिया।

जनपद हमीरपुर के थाना बिवार के छानी खुर्द निवासी संतराम के परिवार में पत्नी अनीता के अलावा बेटी अंजना (10) व खुशी (7) और एकलौता पुत्र रविंद्र (5) था। संतराम एक माह पहले मूसानगर रोड स्थित हथेरूआ गांव के समीप स्थित एक ईंट भट्ठे में मजदूरी करता था। वहीं पर ही झोपड़ी में परिवार के साथ रहता था।

तहरीर देकर मां अनीता ने बताया कि सोमवार रात सभी लोग सो रहे थे। मंगलवार भोर पहर पिता संतराम के बगल में सो रहे बेटे रविंद्र ने बिस्तर पर लघुशंका कर दी। इससे नाराज होकर पति ने उसे बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया। विरोध पर बेटियों के साथ उसकी भी पिटाई कर जान से मारने की धमकी देकर चुप करा दिया।

उसकी आंखों के सामने रविंद्र की मौके पर मौत हो गई। बेटे की मौत का पता चलते ही पति लोडर से पूरे परिवार को लेकर शव गांव छानी खुर्द लेकर चला गया। तभी अनीता ने मौका पाकर अपने भाई अजय कुमार निवासी पारा रैपुरा थाना सुमेरपुर, हमीरपुर को घटना की जानकारी दी। अजय ने अन्य परिजनों के साथ गांव पहुंचकर आरोपी संतराम को पकड़कर पीटा।

इसके बाद अजय ने कोतवाली पुलिस को घटना की सूचना दी। गांव पहुंची पुलिस संतराम को पकड़ कर कोतवाली लाई। पुलिस ने संतराम की निशानदेही पर शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। प्रभारी निरीक्षक राजीव सिंह ने बताया कि अनीता की तहरीर पर पति संतराम के  खिलाफ पुत्र की हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज की गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

बिस्तर पर लघुशंका करने से गुस्से में आकर हैवान बने पिता संतराम से बहनें रो-रोकर मासूम भाई को छोड़ने की गुहार लगाती रहीं। लेकिन बेटे को बेरहमी से पीट रहे पिता का दिल नहीं पसीजा। पत्नी और बेटियों ने जब बचाने का प्रयास किया तो उनकी भी पिटाई कर दी। संतराम की आंखों में उतरा खून को देखकर तीनों कोने में झोपड़ी के कोने में बैठकर बिलखती रहीं।

पति के खिलाफ इकलौते पुत्र की हत्या का मुकदमा दर्ज कराने वाली अनीता पुलिस से चीख कर बोली, ऐसा पिता दुश्मन को भी न मिले। उसने कहा कि पुत्र के हत्यारे को कड़ी सजा जरूर दिलाएं। अगर संतराम का इरादा भांप जाती तो चाहे जान चली जाती तो जिगर के टुकड़े को कुछ न होने देती। उसने पुलिस को पति के आपराधिक इतिहास के बारे में भी बताया। वह कई और मामलों में विचाराधीन भी बताया जा रहा था।

मंगलवार सुबह भट्ठा मजदूर द्वारा पुत्र की हत्या कर शव जलाकर छिपा देने की अफवाह उड़ने के बाद कोतवाली पुलिस हरकत में आई थी। पुलिस जांच करने ईंट भट्ठा पहुंची तो कोई सुराग नहीं मिलने पर लौट आई।




Popular posts from this blog

घायलों की मदद करने वाले समाजसेवियों को किया गया सम्मानित

पूनम्स पब्लिक स्कूल में हुआ विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

नेशनल मीडिया प्रेस क्लब हर सदस्य को उपलब्ध कराएगा स्वरोजगार का अवसर