जोधपुर में थाने पर हमला लॉकअप की चाबी छीनने की कोशिश


मंत्री अशोक गहलोत के गृहनगर जोधपुर में बदमाशों के दुस्साहस बढ़ता जा रहा है। वे थाने में घुस पुलिसकर्मियों पर हमला कर बंदी को छुड़ाने तक का प्रयास करने से बाज नहीं आ रहे हैं। शहर के सूरसागर पुलिस थाने में कल देर रात बंदी बनाए गए एक युवक को छुड़ाने के लिए देर रात एक महिला सहित 3 बदमाशों ने हमला बोल दिया। बदमाश अपने साथी को छुड़ा कर ले जाने में विफल रहे। लेकिन वे एक संतरी की टोपी व मोबाइल लेकर भाग निकले। बाद में पूरे शहर की नाकाबंदी करवा कर उन्हें थाने से काफी दूरी पर पकड़ा गया।

पुलिस के अनुसार, कल शाम सूरसागर निवासी नरेश माली को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। रात करीब ढाई बजे नरेश का भाई दिनेश अपनी महिला मित्र हरकू व मेघाराम के साथ एक कार में सवार होकर थाने पहुंचा। उस समय थाने में सिर्फ संतरी अर्जुन व राकेश ड्यूटी पर तैनात थे। बाकी स्टाफ गश्त पर था। उन्होंने वहां पहुंचते ही दोनों के साथ धक्कामुक्की शुरू कर दी और हवालात की चाबी छीनने का प्रयास किया। इस दौरान संतरी व बदमाश आपस में गुत्थमगुत्था हो गए।

संतरी अर्जुन व राकेश ने उनका मुकाबला किया और चाबी बदमाशों के हाथ नहीं लगने दी। इस घटनाक्रम में अर्जुन चोटिल हो गया। बाद में दिनेश, मेघाराम व हरकू वहां से अर्जुन का मोबाइल और उसकी टोपी लेकर भाग निकले। थाने में इस तरह से हमला होने की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी हरकत में आ गए। थोड़ी देर में ही पूरे शहर की नाकाबंदी कर विशेष तलाशी अभियान चलाया गया। नागौरी गेट के पास बदमाशों की कार को पकड़ लिया गया। तीनों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज किया गया है। 

Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...