जुदा होने के गम में प्रेमिका फांसी के फंदे से झूली

उन्नाव के अजगैन कोतवाली के उगरापुर कौड़िया निवासी विनय (17) पुत्र शिवशंकर व पड़ोस की रागिनी (17) पुत्री राजाराम के शव रागिनी के घर पर मिलने से सनसनी फैल गई। रागिनी व विनय में दो साल से गहरी नजदीकियां थीं।

ग्रामीणों के अनुसार दोनों के परिजनों को उनका यह रिश्ता मंजूर नहीं था। सोमवार तड़के विनय रागिनी के घर पहुंचा और फंदे से लटक गया। घटना की जानकारी विनय के भाई चंद्रेश को मिली तो वह भागकर रागिनी के घर पहुंचा और फंदे से लटके भाई विनय को नीचे उतारकर पास के ही एक नर्सिंग होम ले गया।

जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। भाई के मरने की सूचना पर आक्रोश में चंद्रेश ने शव को रागिनी के घर पर ही डाल दिया। सुबह लगभग 6 बजे जब रागिनी को विनय की मौत की जानकारी हुई तो उसने भी कोठरी में जाकर फांसी लगा ली। दोनों की मौत से कोहराम मच गया। एसओ संतोष कुमार अन्य पुलिस बल के साथ जांच कर रहे हैं।