आईआईटी कानपुर भूटान को तकनीक रूप से सक्षम बनाएगा


 आईआईटी कानपुर अब भूटान को तकनीक रूप से सक्षम बनाएगा। भूटान में एआई (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस) और साइबर सिक्योरिटी के विशेषज्ञों की आईआईटी की मदद से फौज तैयार की जाएगी। आपसी समझौते के तहत भूटान से हर वर्ष छात्र आईआईटी में एमटेक करने आएंगे।

इंडिया भूटान फ्रेंडशिप स्कॉलरशिप के तहत भूटान सरकार की ओर से चयनित छात्र-छात्राएं आईआईटी कानपुर में पढ़ने आएंगे। इन्हें एमटेक के माध्यम से नई तकनीकी के बारे में विशेषज्ञ बनाया जाएगा। संस्थान में आने से पहले इन छात्रों को विशेषज्ञों के एक पैनल के समक्ष साक्षात्कार से भी गुजरना होगा।

संस्थान के निदेशक ने बताया कि भूटान के साथ एक आपसी समझौते के तहत छात्र आएंगे। बताया कि साइबर सिक्योरिटी और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के क्षेत्र में आईआईटी के वैज्ञानिक निरंतर नए शोध कर तकनीकी विकसित कर रहे हैं। संस्थान में बनी अत्याधुनिक कंप्यूटर लैब सी3आई और सुपर कंप्यूटर इसमें सहायक हैं।