आवास आवंटन में गरीबों के साथ सौतेलापन का व्यवहार क्यों



सन्दीप मिश्रा

उतर प्रदेश सरकार की उम्मीदों में पानी फेर रहे ग्राम प्रधान व ब्लॉक के उच्च अधिकारी , छप्पर के नीचे रहने को मजबूर हो रहे है गरीब परिवार ।रायबरेली  जनपद के विकास खण्ड डलमऊ के अन्तर्गत निवासी रसूल पुर गहरवारी की रहने वाली भगवान देवी व दर्जनों गरीब ग्रामीणों ने बताया कि आवास आवंटन में घोरधांधली हुई है जिसके चलते हम गरीबों को आवास प्राप्त नहीं हुआ है । ग्रामीणों ने बताया कि जो भी आवास दिए गए हैं वो उनके चाहेतो को ही दिए जो अपात्र हैं और वही पर गरीबों के साथ सौतेला पन का व्यवहार किया गया है । दर्जनों गरीब परिवार पन्नी (छप्पर) छाकर किसी तरह अपना जीवन यापन कर रहे हैं , चाहे धूप का मौसम हो या फिर बारिश का मौसम हो किसी तरह जीवन यापन कर रहे हैं । जबकि यह गरीब लोग आवास के पात्र हैं । ग्रामीणों का कहना है कि हमारे ग्राम प्रधान मात्र दिखावा कर रहे हैं और अपनों को आवास देकर आने वाली धनराशि का बंदरबांट कर रहे हैं । यही नहीं इस ग्राम सभा में ग्राम प्रधान द्वारा कोई भी संतोषजनक कार्य आज तक नहीं हुआ है और इस ग्रामसभा का विकास खोखला साबित हो रहा है ।

Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...