गोआश्रय स्थल में दो गोवंशों की मौत

 


रसूलाबाद (कानपुर देहात)। क्षेत्र के पालनगर गोआश्रय स्थल में दो दिन में दो गोवंशों की मौत हो गई जबकि, एक मरणासन्न हालत में हैं। गोवंश के शवों को पोस्टमार्टम के बाद दफना दिया गया। गोआश्रय स्थल में ठंड से निपटने के इंतजाम न होने से गोवंशों को दिक्कत हो रही है।

रसूलाबाद तहसील क्षेत्र के भैसायां का मजरा पाल नगर में छुट्टा मवेशियों के लिए गोआश्रय स्थल है। वहां 16 से 17 दिसंबर के बीच दो गोवंशों की मौत से हडक़ंप मच गया। गो सेवक संजय कुमार ने जानकारी अफसरों को दी। पशु चिकित्सक डॉ. विक्रम ने गोवंशों का पोस्टमार्टम किया। डॉक्टर ने बताया कि एक गोवंश की चोट लगने से मौत हुई है। जबकि एक की ठंड से मौत हुई है। गोसेवक ने बताया कि 15 दिसंबर को गोआश्रय स्थल में 103 मवेशी थे। दो की मौत के बाद वहां 101 गोवंश बचे हैं। एक मवेशी मरणासन्न हालत में है। गोवंशों को ठंड से बचाने के कोई खास इंतजाम नहीं है। एसडीएम रसूलाबाद अंजू वर्मा ने बताया कि जानकारी मिली है। अलाव के लिए बजट आया है। जल्द गोआश्रय स्थल में अलाव जलाए जाएंगे। बाकी अन्य व्यवस्थाएं गोआश्रय स्थल में ठीक है।

डेरापुर में रविवार को तहसीलदार लाल सिंह यादव ने खल्ला गांव का गोआश्रय स्थल देखा। यहां सफाईकर्मी अरुण कुमार ने बताया कि भूसा व पशुआहार उपलब्ध है। गोआश्रय स्थल में 32 गोवंश मिले। सर्दी से बचाव के लिए तिरपाल लगाया गया था। तहसीलदार ने सफाई कर्मी को गोआश्रय स्थल की व्यवस्था दुरुस्त रखने को कहा।



Popular posts from this blog

घायलों की मदद करने वाले समाजसेवियों को किया गया सम्मानित

पूनम्स पब्लिक स्कूल में हुआ विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

नेशनल मीडिया प्रेस क्लब हर सदस्य को उपलब्ध कराएगा स्वरोजगार का अवसर