कॉलगर्ल और उसके साथियों का भंडाफोड़

 


मेरठ में सेना के जवानों को हनी ट्रैप में फंसाने वाली कॉलगर्ल और उसके गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। पुलिस ने युवती समेत तीन आरोपी गिरफ्तार किए हैं। तीन आरोपियों की तलाश में दबिश जारी है।

पुलिस के अनुसार सेना के एक जवान ने साइबर सेल और नौचंदी थाने में शिकायत की थी कि मेरठ की एक युवती और युवक ने गैंग बनाया हुआ है, जो हनीट्रैप से ब्लैकमेल करती है। वह सेना के कई जवानों को जाल में फंसा चुकी है।

सेना के एक जवान के परिवार से मुजफ्फरनगर में सोने के जेवरात ठग लिए थे। वहीं, साइबर सेल और नौचंदी पुलिस की पूछताछ में गिरफ्तार आरोपियों ने एक दर्जन से ज्यादा वारदात करनां कबूल लिया।

स गैंग की सरगना पहले दोस्ती करती थी, फिर सेना के जवान का अश्लील वीडियो बनाती थीं। उसके बाद ब्लैकमेलिंग शुरू होती थी। दोनों आरोपियों के मोबाइल में कई फौजियों और अन्य लोगों की अश्लील वीडियो भी मिले हैं। यह गिरोह नौचंदी क्षेत्र निवासी एक युवक चलाता था, जबकि युवती लोगों को जाल में फंसाती थी।

इस गिरोह के निशाने पर राजस्थान, हरियाणा और गुजरात के फौजी थे। हरियाणा के एक फौजी को मेरठ में युवती ने बुलाया था। युवती फौजी को होटल में ले गई, जहां पर उसकी अश्लील वीडियो बनाई। फौजी को बेहोश करके उसका सारा सामान समेटकर युवती होटल से फरार हो गई थी। फौजी ने इसकी शिकायत नौचंदी थाने में की थी। होटल में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में उक्त युवती और उसका एक साथी कैद हो गए थे। तभी से इस गिरोह की तलाश में नौचंदी थाने की पुलिस लगी हुई थी।

आरोपी युवती की 12 फर्जी आईडी मिली है। अलग-अलग आईडी से युवती सेना के जवानों से बात करती थी। अब पुलिस ने युवती द्वारा हनी ट्रैप में फंसा कर पीड़ित फौजियों का पता लगाना शुरू कर दिया है। बताया जा रहा है कि उक्त युवती एक साल से ज्यादा समय से यह काम कर रही थी।



Featured Post

पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी व मेले का हुआ उद्घाटन

आज सचेंडी दशहरा मेला मैदान में  पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी एवम मेला का शुभ उदघाटन हुआ, जिसमे मुख्य रूप से ग्राम प्रधान सचेंडी पति रामकुमा...