मृतक के बैग से मिली तस्वीर युवक की शिनाख्त का खुलासा

 


मथुरा जिले में 16 दिसंबर को यमुना एक्सप्रेसवे के राया कट के नजदीक मिले युवक के शव की शिनाख्त करते हुए पुलिस ने शुक्रवार को घटना का खुलासा कर दिया। युवक की हत्या उसकी पत्नी ने अपने प्रेमी संग मिलकर की थी। ताजमहल देखने के बहाने पत्नी ने खूनी साजिश रची थी। आगरा से लौटते वक्त इस वारदात को अंजाम दिया। मृतक के बैग से मिली तस्वीर से युवक की शिनाख्त हुई। इसके बाद पुलिस ने आरोपियों गिरफ्तार कर लिया। 

6 दिसंबर को राया कट के पास अज्ञात युवक का शव मिला था। उसके सिर पर पत्थर मारकर हत्या की गई थी। एसएसपी डॉक्टर गौरव ग्रोवर ने एसपी देहात श्रीश चंद के नेतृत्व में खुलासे के लिए टीम बनाई। जांच के दौरान मृतक की शिनाख्त शिवकुमार (27) पुत्र भरत सिंह निवासी सेवली (पलवल) के रूप में हुई। पुलिस ने छानबीन की तो प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया है। 



एसएसपी डॉक्टर गौरव ग्रोवर ने बताया कि युवक की हत्या के मामले में उसकी पत्नी पूनम और संदीप पुत्र महावीर निवासी गोराला, टप्पल (अलीगढ़) को गिरफ्तार किया। आरोपी संदीप पूनम का प्रेमी है। दोनों के बीच तीन साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। पति को रास्ते से हटाने के लिए पूनम ने हत्या की साजिश रची थी। 

जून में ही शिवकुमार की शादी पूनम से हुई थी। पत्नी के कहने पर शिवकुमार उसे आगरा ताजमहल घुमाने ले गया था। संदीप इनका पीछा करता रहा। वह लगातार पूनम के संपर्क में रहा। आगरा से लौटते समय शिवकुमार और पूनम यमुना एक्सप्रेसवे के राया कट पर उतरे। यहां पूनम लघुशंका जाने के बहाने पति को झाड़ियों में ले गई। 

पीछे से पूनम का प्रेमी संदीप आ गया। उसने पत्थर से शिवकुमार के सिर पर प्रहार कर दिया। इससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा। इसके बाद पूनम और संदीप ने शिवकुमार के चेहरे और सिर पर कई प्रहार कर हत्या कर दी। वारदात के दो दिन बाद पुलिस ने आरोपी पत्नी पूनम और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया।



Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...