चिनहट मटियारी में शुक्रवार सुबह प्लास्टिक गोदाम में लगी भीषण आग

 


उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में चिनहट मटियारी में शुक्रवार सुबह एक प्लास्टिक गोदाम में आग लग गई। आग की चपेट में आने से लाखों रुपये का सामान जलकर राख हो गया। सूचना पर पहुंची दमकल की 7 गाड़ियों ने ढाई घंटे मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। 

सुबह-सुबह इलाके में आग लगने से अफरा-तफरी का माहौल बन गया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल से लोगों को दूर किया। पुलिस के मुताबिक हादसे में कोई हताहत नहीं है।

प्रभारी निरीक्षक चिनहट धनंजय पांडे के मुताबिक, मटियारी इलाके में अब्दुल कलाम नाम के व्यक्ति का प्लास्टिक सामान का गोदाम है। शुक्रवार सुबह करीब 4:00 से 5:00 के बीच में गोदाम में अचानक आग लग गई। आशंका जताई जा रही है कि आग शॉर्ट सर्किट से लगी है। 

सूचना पर पहुंची दमकल की 7 गाड़ियों ने 2:30 घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है। आग से लाखों रुपये का नुकसान हो गया। हालांकि गोदाम मालिक ने नुकसान के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है।  पुलिस के मुताबिक गोदाम रिहायशी इलाके में है। समय रहते आग पर काबू पाया गया, नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था।

इससे पहले लखनऊ के मड़ियांव के केशवनगर में स्थित कबाड़ मंडी में बृहस्पतिवार रात को अचानक आग लग गई। मंडी से तेज लपटें व धुआं निकलता देख लोगों की भीड़ जुट गई। तत्काल पुलिस व फायर कंट्रोल रूम को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को दूर किया। करीब नौ दमकल की गाड़ियों ने आग पर दो घंटे की मशक्कत के बाद काबू पाया। 

पुलिस के मुताबिक, हादसे में 35 दुकानें जलकर राख हो गईं। वहीं दुकानदारों ने आरोप लगाया कि किसी ने जानबूझकर आग लगाई है। हादसे में करीब डेढ़ से दो करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। फिलहाल पुलिस आग लगने के कारणों की जांच कर रही है। 

मड़ियांव के केशवनगर में एलडीए की खाली जमीन है जिस पर कबाड़ व पुराने फर्नीचर की दुकानें हैं। बृहस्पतिवार रात को अंजुम की पुराने फर्नीचर की दुकान में अचानक आग लग गई जिससे तेज लपटें निकलने लगीं। अभी कोई कुछ समझ पाता इसी बीच एक-एक कर आसपास की दुकानों को आग ने अपनी जद में ले लिया। 

स्थानीय लोगों ने तत्काल पुलिस व फायर कंट्रोल रूम को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को दूर किया। इसके बाद दमकल की गाड़ियों ने आग पर काबू पाना शुरू किया। मुख्य अग्निशमन अधिकारी विजय सिंह केमुताबिक, आग की सूचना पर इंदिरानगर, हजरतगंज और बीकेटी फायर स्टेशन से दमकल की गाड़ियों को भेजा गया। करीब नौ गाड़ियों ने ढाई घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग लगने का कारण पता लगाया जा रहा है। पूरे बाजार में आग बुझाने के कोई इंतजाम नहीं है। इसके लिए मंडी के संचालकों को नोटिस दिया जाएगा।




Featured Post

पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी व मेले का हुआ उद्घाटन

आज सचेंडी दशहरा मेला मैदान में  पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी एवम मेला का शुभ उदघाटन हुआ, जिसमे मुख्य रूप से ग्राम प्रधान सचेंडी पति रामकुमा...