हाथरस के चंदपा कांड में सीबीआई पीड़िता के बड़े भाई का मनोवैज्ञानिक मूल्यांकन

 


हाथरस के चंदपा कांड में सीबीआई पीड़िता के बड़े भाई का मनोवैज्ञानिक मूल्यांकन कराने के लिए गुजरात ले जा सकती है। इस बात को लेकर पूरे दिन चर्चा होती रही। वहीं, आरोपियों के परिजनों का कहना था कि वह अपने बच्चों से मिलना चाहते हैं। बुधवार को बिटिया के मामले में हाईकोर्ट में सुनवाई हुई थी। अब अगली सुनवाई 27 जनवरी को होगी। माना जा रहा है कि इस मामले में सीबीआई जल्द ही चार्जशीट दाखिल कर सकती है

 बिटिया प्रकरण को लेकर पूरे दिन यह भी चर्चा रही कि बिटिया के बड़े भाई को सीबीआई मनोवैज्ञानिक मूल्यांकन के लिए गुजरात ले जा सकती है। सोशल मीडिया पर ऐसी ही खबरें चलीं। इस मामले में सीबीआई चारों आरोपियों के पॉलीग्राफी आदि टेस्ट करा चुकी है। बिटिया के परिजनों का कहना था कि उन्हें तो मीडिया से यह जानकारीमिली है कि अब इस मामले में 27 जनवरी को अगली सुनवाई होगी। 



नाबालिग बताए जाने वाले एक आरोपी के पिता का कहना था कि उन्हें मालूम है कि उनके बेटे को सीबीआई पॉलीग्राफी टेस्ट के बाद वापस अलीगढ़ जेल ले आई है। जब से उनका बेटा जेल गया है, वह उससे नहीं मिले हैं। वह अपने बेटे से मिलना चाहते हैं। इधर, सुरक्षा के मद्देनजर सीआरपीएफ बिटिया के घर पर तैनात रही।

 बिटिया के बहुचर्चित प्रकरण में सीबीआई की जांच जारी है। सीबीआई हालांकि पिछले कई दिन से बिटिया के गांव नहीं गई थी, लेकिन बुधवार को दोपहर 11 बजे के लगभग टीम एकाएक बिटिया के गांव पहुंच गई। वहां टीम ने पीड़ित परिवार से करीब 15 मिनट तक फिर पूछताछ की और जानकारी जुटाई।

 इससे पहले भी कई बार बिटिया के परिजनों से सीबीआई पूछताछ कर चुकी है। कुछ देर के लिए टीम थाना चंदपा भी पहुंची और वहां भी कई तथ्यों पर जानकारी हासिल की। इधर, रोजाना की तरह सीआरपीएफ बिटिया के घर पर तैनात रही।




Popular posts from this blog

घायलों की मदद करने वाले समाजसेवियों को किया गया सम्मानित

पूनम्स पब्लिक स्कूल में हुआ विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

नेशनल मीडिया प्रेस क्लब हर सदस्य को उपलब्ध कराएगा स्वरोजगार का अवसर