भारतीय टीम का टेस्ट में न्यूनतम स्कोर

 


एडिलेड में खेले जा रहे डे-नाइट टेस्ट में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने गेंदबाजों के दम पर जबरदस्त वापसी की। तीसरे दिन के खेल में ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाजों की जमकर क्लास लगाई और पूरी टीम को दूसरी पारी में 36 रन पर समेट दिया। भारतीय टीम ने अपने नौ विकेट 36 रन पर गंवाए जबकि मोहम्मद शमी चोट की वजह से रिटायर्ड हर्ट हुए। इस तरह से टीम इंडिया ने टेस्ट इतिहास में न्यूनतम स्कोर तो बनाया ही साथ ही साथ पिंक बॉल का भी सबसे खराब प्रदर्शन किया। 

तीसरे दिन का खेल शुरू होने पर भारतीय टीम का स्कोर एक विकेट के नुकसान पर नौ रन था और तब बुमराह और मयंक अग्रवाल क्रीज पर मौजूद थे। लेकिन दो ओवर के अंदर ही पैट कमिंस ने बुमराह को आउट कर टीम इंडिया को दूसरा झटका दिया। बुमराह के आउट होने के बाद 12वें ओवर में टीम के भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा भी कमिंस की गेंद पर बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए।  

पुजारा के आउट होने पर टीम इंडिया का कुल स्कोर 15 रन था जो उनके लिए बदकिस्मत साबित हुआ। भारतीय टीम ने देखते-देखते 15 रन पर अपने चार विकेट गंवा दिए। हेजलवुड ने अपने पहले ही ओवर में मयंक अग्रवाल और फिर अजिंक्य रहाणे को भी पवेलियन भेज दिया। इसके बाद स्कोर में चार रन के इजाफे के साथ ही कप्तान विराट कोहली भी कमिंस का शिकार बने। कप्तान के आउट होते ही 36 रन पर मेहमान टीम ने अपने नौ विकेट गंवा दिए और बाद में मोहम्मद शमी चोट की वजह से रिटायर्ड हर्ट हुए। 

भारतीय टीम का कोई भी बल्लेबाज दो अंकों का स्कोर नहीं बना पाया। जबकि ऑस्ट्रेलिया के जोस हेजलवुड ने आठ रन देकर पांच और कमिंस ने 21 रन देकर चार विकेट चटकाए। 




Featured Post

कानपुर से उत्तर भारत के सर्वक्षेष्ठ ज्योतिष अवार्ड से सम्मानित किए गए आदित्य पांडेय

मुंबई। सहारा स्टार होटल में ब्रांडेड पावर द्वारा कारपोरेट अवार्ड घोषित किए गए। जिसमें पद्मश्री पद्म विभूषण प्राप्त एक्टर अनुपम खेर द्वारा अव...