नौ फरवरी को होगा पांचवां दीक्षांत समारोह


 मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय का पांचवां दीक्षांत समारोह नौ फरवरी को आयोजित किया जाएगा। कुलाधिपति ने आयोजन की स्वीकृति दे दी है। समारोह ऑफलाइन मोड में आयोजित किया जाएगा। अध्यक्षता कुलाधिपति एवं राज्यपाल आनंदी बेन पटेल करेंगी। इस आशय का पत्र राजभवन द्वारा विश्वविद्यालय को प्राप्त हो गया है।

राजभवन से स्वीकृति मिलने के बाद विश्वविद्यालय ने दीक्षांत समारोह की तैयारियां तेज कर दी हैं। दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि के नाम को लेकर विचार-विमर्श चल रहा है। विश्वविद्यालय के संपर्क अधिकारी डॉ. अभिजीत मिश्र ने बताया कि सत्र 2019-20 में अंतिम वर्ष की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले 1180 विद्यार्थियों को पंचम दीक्षांत समारोह में उपाधियां प्रदान की जाएंगी।

विश्वविद्यालय इस वर्ष पहली बार केमिकल इंजीनियरिंग में बीटेक एवं भौतिकी में एमएससी की उपाधि प्रदान करेगा। समारोह के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करनेवाले छात्रों को एक कुलाधिपति स्वर्ण पदक, 15 कुलपति स्वर्ण पदक सहित 15 प्रायोजित स्वर्ण पदकों से नवाजा जाएगा।

विश्वविद्यालय प्रशासन ने समारोह की तैयारियों की देखरेख के लिए कुलपति के अनुमोदन से विभिन्न समितियां गठित कर दी हैं। स्वागत समिति में समस्त अधिष्ठाता, विभागाध्यक्ष, कुलसचिव, वित्त नियंत्रक एवं प्रो. केजी उपाध्याय को शामिल किया गया है। निमंत्रण समिति और प्रकाशन समिति, दोनों का समन्वयक प्रो. गोविंद पांडेय को बनाया गया है। मंच समिति की जिम्मेदारी प्रो. एसपी सिंह को दी गई है।

जबकि उपाधि समिति का समन्वयक अधिष्ठाता प्रो. डीके द्विवेदी को बनाया गया है। वेशभूषा समिति और पंडाल समिति दोनों का समन्वय प्रो. यूसी जायसवाल करेंगे। व्यवस्था एवं अनुशासन बनाए रखने के लिए अनुशासन समिति गठित की गई है। इसका समन्वयक नियंता प्रो. वीके गिरि को बनाया गया है। उपाधि प्राप्तकर्ताओं एवं अतिथियों के सत्कार के लिए बनी समिति का समन्वयक प्रो राकेश कुमार को बनाया गया है। जलपान समिति का समन्वयन प्रो. एससी जायसवाल करेंगे। कार्यक्रम की फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी एवं सजीव वेब प्रसारण की व्यवस्था की निगरानी प्रो. बीके पांडेय करेंगे।

प्रचार प्रसार समिति का समन्वयक डॉ. अभिजित मिश्र को बनाया गया है। जबकि राज्यपाल को गार्ड ऑफ ऑनर प्रस्तुति की व्यवस्था ले. केबी सहाय को दी गई है। चिकित्सा समिति में डॉ. एके पांडेय एवं डॉ. रीना बंका को रखा गया है। समन्वयन समिति का अध्यक्ष प्रो. केजी उपाध्याय एवं सह अध्यक्ष प्रो. डी के द्विवेदी को बनाया गया है।

छात्रों की अनंतिम मेरिट लिस्ट शीघ्र ही विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड कर दी जाएगी। छात्र किसी तरह की विसंगति या आपत्ति से विश्वविद्यालय को अवगत करा सकते हैं। आपत्तियों और विसंगतियों के निस्तारण के बाद संशोधित मेरिट लिस्ट प्रकाशित की जाएगी।



Popular posts from this blog

घायलों की मदद करने वाले समाजसेवियों को किया गया सम्मानित

पूनम्स पब्लिक स्कूल में हुआ विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

नेशनल मीडिया प्रेस क्लब हर सदस्य को उपलब्ध कराएगा स्वरोजगार का अवसर