बुजुर्ग महिला की गला रेतकर हत्या


 उत्तर प्रदेश के आगरा में गुरुवार रात लूटपाट के बाद एक बुजुर्ग महिला की गला रेतकर हत्या कर दी गई। शुक्रवार सुबह उसका शव उसी के घर में फर्श पर पड़ा मिला। यह मामला थाना एत्माद्दौला थाना क्षेत्र का है फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर बारीकी से घटनास्थल की पड़ताल की है। पुलिस को इस लूट व हत्याकांड के पीछे महिला के किसी अपने पर ही शक है। मृतका के चार बेटे अलग-अलग रहते थे। वह घर में अकेली रहती थी।

एत्माद्दौला थाना क्षेत्र के मोती महल स्थित शम्भू नगर में उर्मिला देवी के पति बच्चू सिंह की 20 साल पहले मौत हो चुकी है। उर्मिला के चार बेटे हैं। लेकिन सभी अलग-अलग रहते हैं। वह घर में अकेली रहती थी। गुरुवार को उर्मिला ने अपनी एक भैंस बेची थी। जिसके बदले उन्हें 48 हजार रुपए मिले थे। लेकिन शुक्रवार को जब सुबह वह लोगों को नहीं दिखी तो आसपास के लोगों ने घर में झांक कर देखा। घर में उर्मिला बेसुध हालत में पड़ी हुई थी। पड़ोसियों ने तुरंत महिला के बेटों को सूचना दी।


मुकेश ने बताया की उसकी मां का गला का रेत दिया गया था। किसी ने रात में उसकी मां की हत्या कर दी है। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सिटी सहित थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घर में सामान इधर-उधर बिखरा पड़ा था। नकदी और जेवरात गायब मिले हैं। पुलिस लूटपाट की आशंका जता रही है।

महिला के बड़े बेटे मुकेश ने बताया कि उसकी मां परचून की दुकान चलाती थी। साथ में घर में ही एक छोटा सा बाड़ा भी बना रखा था। दूध बेचने और परचून की दुकान से होने वाली कमाई से ही वह अपना गुजारा करती थी। मां रोज सुबह जल्दी दूध बेचने के लिए उठ जाती थी और जल्दी ही दुकान भी खोल लेती थी।

 रोहन प्रमोद ने बताया कि जांच के लिए डॉग स्क्वॉयड, फोरेंसिक टीम को बुलाया गया है। हर पहलु को ध्यान में रखकर जांच चल रही है। परिजनों से तहरीर लेकर केस भी दर्ज होगा। जल्द ही इस प्रकरण का खुलासा किया जाएगा।


Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...