वन विभाग की टीम को ट्रैक्टर से कुचलने की कोशिश


आगरा जिले के बीहड़ में खनन माफिया के हौसले बुलंद हैं। पिनाहट और आसपास के इलाके में न अवैध खनन रुक रहा है और न ही खनन माफिया का दुस्साहस कम हो रहा है। रविवार की सुबह खनन माफिया के गुर्गों ने वन विभाग की टीम पर ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ाने की कोशिश की। वनकर्मियों ने सड़क से खंदी में कूदकर जान बचाई। बाद में टीम द्वारा पीछा करने पर गुर्गे ट्रैक्टर-ट्रॉली छोड़कर भाग गए। 

घटना पिनाहट थाना क्षेत्र के पडुआ पुरा गांव की है। रविवार सुबह वन विभाग को चंबल सेंचुरी क्षेत्र में अवैध खनन की जानकारी मिली थी। इस पर वन विभाग की टीम पडुआपुरा मार्ग पर पहुंच गई। चंबर सेंचुरी क्षेत्र की ओर से तीन ट्रैक्टर-ट्राली आ रहे थे। टीम ने उन्हें रोकने के लिए सामने खड़े होकर टार्च लगाई। मगर, चालकों ने ट्रैक्टर की रफ्तार और बढ़ा दी। 

आगे चल रहे ट्रैक्टर चालक ने वन विभाग की टीम को कुचलने की कोशिश की। वनकर्मियों ने खंदी में कूदकर जान बचाई। इस मामले में वन विभाग की टीम ने पड़ुआपुरा गांव से एक ट्रैक्टर-ट्राली को जब्त कर लिया। रेंजर का कहना है कि इस ट्रैक्टर-ट्राली से अवैध खनन कर बालू लाई जा रही थी। उधर, थाना पुलिस का कहना है कि तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। 

बता दें कि आठ नवंबर को खेरागढ़ थाना क्षेत्र में बालू से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली से कुचलकर थाना सैंया के सिपाही सोनू चौधरी की हत्या कर दी गई थी। सिपाही सोनू टीम के साथ खनन के वाहनों को पकड़ने गए थे। उन्होंने बालू से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली को रोकने का प्रयास किया था। इस पर खनन माफिया के गुर्गे ने सिपाही पर ही ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ा दी थी। 



Featured Post

पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी व मेले का हुआ उद्घाटन

आज सचेंडी दशहरा मेला मैदान में  पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी एवम मेला का शुभ उदघाटन हुआ, जिसमे मुख्य रूप से ग्राम प्रधान सचेंडी पति रामकुमा...