फैसला लेंगे किसान, होने वाली है अहम बैठक


नई दिल्ली: नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर धरने पर बैठे किसानों को मनाने के लिए मोदी सरकार हर संभव प्रयास कर रही है, लेकिन किसान अपने रुख पर कायम हैं. सरकार द्वारा किसानों को बातचीत के लिए एक और प्रस्ताव भी भेजा गया है, जिस पर आज फैसला होने की उम्मीद है. सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की आज बैठक होने वाली है. इस बैठक में सरकार के प्रस्ताव पर चर्चा के साथ ही आगे की रणनीति तय की जाएगी. किसान पिछले एक महीने से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं. इस बीच, हल निकालने की कई बार कोशिश की जा चुकी है, लेकिन अब तक कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है. 

किसान संयुक्त मोर्चा की आज होने वाली बैठक का समय तय नहीं है, लेकिन ये बैठक आंदोलन  के लिए अहम मानी जा रही है. इस बैठक में किसान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  से मुलाकात के मुद्दे पर चर्चा करने के साथ ही आगे की रणनीति तैयार करेंगे. इस बीच किसानों ने हरियाणा बॉर्डर पर शाहजहांपुर में जाम लगा दिया है. दिल्ली कूच के लिए निकले किसानों को हरियाणा पुलिस ने रास्ते में ही रोक लिया था, जिसके बाद किसानों ने दिल्ली से जयपुर आने वाली लेन को भी जाम कर दिया पर जाम होने से दिल्ली जयपुर का संपर्क कट गया है.





 

Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...