सेना करेगी कर्नल के खिलाफ कार्रवाई होगी कोर्ट ऑफ इंक्वायरी

 


रूसी महिला से दुष्कर्म करने के आरोपी कर्नल नीरज गहलोत पर सेना भी कार्रवाई करेगी। आरोपी को अगर जमानत मिलती है तो सेना कोर्ट ऑफ इंक्वायरी शुरू करेगी। जमानत नहीं मिलने की दशा में कोर्ट के निर्णय के आधार पर सेना अपनी कार्रवाई शुरू करेगी। 

सैन्य सूत्रों के अनुसार पुलिस ने सेना के बड़े अफसरों को जानकारी दे दी है। चूंकि रिपोर्ट पुलिस ने दर्ज की है और मामला सिविल कोर्ट में शुरू हो गया है, कर्नल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

ऐसे में सेना कोर्ट के आदेश का इंतजार करेगी। सेना में गुण-दोष के आधार पर सजा का प्रावधान है। प्रमोशन रोकने के अलावा बर्खास्तगी तक की कार्रवाई की जा सकती है। कर्नल के इस कृत्य से सेना की छवि धूमिल हुई है। इस वजह से चार्जशीट में इसका भी उल्लेख किया जाएगा।



Featured Post

भारत सरकार ने दूरस्थ शिक्षा की गुणवत्ता पर लगाई मोहर: प्रोफेसर सीमा सिंह

कानपुर। मुक्त और दूरस्थ शिक्षा को उच्च शिक्षा से वंचित ग्रामीण अंचलों के शिक्षार्थियों के द्वार तक ले जाने में अध्ययन केंद्र बहुत महत्वपूर्ण...