आवारा पशुओं को स्कूल में बंद करने का मामला दर्ज की FIR



उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में गुरुवार को चार गांवों के लोगों ने आवारा पशुओं को सरकारी स्कूलों में बंद कर दिया था। भनक लगते ही एसडीएम व पशुपालन विभाग की टीम ने ग्रामीणों को समझाकर पशुओं को मुक्त कराया। पशु छोड़ने वाले 26 लोगों के खिलाफ पशु चिकित्साधिकारी ने मुकदमा दर्ज कराया है। बताया जा रहा है कि ग्रामीण कई दिनों से आवारा पशुओं को गोशाला में भेजने की मांग कर रहे थे। सुनवाई नहीं होने पर ग्रामीणों ने पशुओं को पकड़कर प्राथमिक स्कूलों में बंद कर दिया।

तहसील क्षेत्र के गांव आदमपुर, बीझलपुर तथा शीतलासराय के ग्रामीणों ने गुरुवार को बेसहारा पशुओं को प्राथमिक विद्यालयों में बंद कर दिया। ग्रामीणों ने अधिकारियों को गोवंश पशुओं के विद्यालय में बंद होने की सूचना दी। मौके पर पहुंचे उपजिलाधिकारी विजय शंकर, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. ब्रजवीर सिंह तथा थाना प्रभारी निरीक्षक आदमपुर पंकज वर्मा ने तीनों गांव के प्राथमिक विद्यालयों में बंद गोवंश पशुओं को छुड़वा दिया। ग्रामीणों की मांग थी कि पशुओं को गोशाला छोड़ा जाए।

Featured Post

पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी व मेले का हुआ उद्घाटन

आज सचेंडी दशहरा मेला मैदान में  पंडित दीनदयाल विकास प्रदर्शनी एवम मेला का शुभ उदघाटन हुआ, जिसमे मुख्य रूप से ग्राम प्रधान सचेंडी पति रामकुमा...